Hindi News Paper

कोविड काल में कार्यकर्ताओं का कर्तव्य विषय पर पूर्वोत्तर जनजाति शिक्षा समिति की ऑनलाइन बैठक आयोजित

पूर्वोत्तर जनजाति शिक्षा समिति द्वारा जनजाति क्षेत्र व एकल विद्यालय के कार्यकर्ताओं की ऑनलाइन बैठक कोविड कालीन परिस्थिति में कार्यकर्ता के रूप में हमारा कर्तव्य विषय पर संपन्न हुई। बैठक का संचालन समिति के सह मंत्री प्राणजीत पुजारी जी ने किया। बैठक की प्रस्तावना रखते हुए विद्या भारती पूर्वोत्तर क्षेत्र के सह संगठन मंत्री डॉ. पवन तिवारी ने कार्यकर्ताओं को कोविड वैक्सीन के लिये पंजीकरण करने के लिये आग्रह किया। उन्होंने कार्यकर्ताओं से वर्तमान परिस्थिति में तनाव न लेने व सकारात्मक समाचार देखने के बारे में बताया। पूर्व छात्र पंजीकरण अभियान के बारे में कार्यकर्ताओं को डॉ. तिवारी ने जानकारी प्रदान की।

जनजाति क्षेत्र की बैठक में विद्या भारती के अखिल भारतीय मंत्री व पूर्वोत्तर क्षेत्र संगठन मंत्री ब्रह्माजी का मार्गदर्शन कार्यकर्ताओं को प्राप्त हुआ। उन्होंने कार्यकर्ताओं से कोरोना से सतर्क रहने व वर्तमान परिस्थिति में कार्य के स्वरूप को बदलने के बारे में बताया। साथ ही साथ स्वयं का व्यक्तित्व विकास व स्वाध्याय करने के बारे में बताया। ब्रह्माजी ने कहा कि ‘‘कदम निरंतर चलते जिनके, श्रम जिनके अविराम है। विजय सुनिश्चित होती उनकी, घोषित यह परिणाम है।’’ उन्होनें कहा कि सम्पूर्ण विश्व के सुख की कामना करने वाला भारत देश अन्य देशों को भी वैक्सीन भेजकर सहायता प्रदान कर रहा है।

समिति की ऑनलाइन बैठक में समिति के मंत्री सांचिराम पायेंग व अध्यक्ष सदा दत्त उपस्थित रहे। सदा दत्त ने कोरोना काल में धैर्य रखने व सरकार द्वारा निर्धारित SOP को स्वयं पालन करते हुये समाज से भी पालन कराने का आग्रह कार्यकर्ताओं से किया। पूर्व व पश्चिम कार्बीआंग्लांग तथा कोकराझार जिले में समिति के माध्यम से एकल विद्यालय का कार्य देखने वाले भाग, अंचल व संच स्तर के कार्यकर्ताओं ने बैठक में भाग लिया। विद्या भारती पूर्वोत्तर के जनजाति क्षेत्र की शिक्षा के प्रमुख मोनतुइंग जेमी भी हाफलांग से बैठक में शामिल हुए।

Leave a Reply

Your email address will not be published.